पुरुष बांझपन एंव निल स्पर्म की समस्या का अब आयुर्वेद में ईलाज हुवा संभव

कुलवर्धक बांझपन की इन मुख्य समस्याओ में है लाभदायक

N

शुक्राणुओ का ना बनना

N

शुक्राणुओ का कम बनना

N

हार्मोनल प्रॉब्लम का होना

N

शुक्राणुओ का कम motile होना

N

वीर्य का पतला होना

N

टेस्टिस में इन्फेक्शन

Kulvardhak Male

imgimgimg

  • वैज्ञानिक रूप से प्रमाणित. 
  • जल्द रिजल्ट दिखाए.
  • ऊर्जा व स्फूर्ति बढ़ाएँ.

*संतुष्टि की गारंटी

*परिणाम व्यक्ति दर व्यक्ति अलग-अलग हो सकता है

imgimgimg

फ्री कंसल्टेशन बुक करने के लिए नीचे दिये फॉर्म को भरें


    आज बांझपन की समस्या हमारे देश मे लगातार बढ़ती जा रही है। कुछ साल पहले बांझपन की अधिकतर समस्याए महिलाओ मे पायी जाती थी लेकिन आज infertility के Cases मे 40% समस्याए पुरुषो की तरफ से पायी जा रही है। पुरुषो मे अधिकतर समस्या कम शुक्राणु, नील शुक्राणु या फिर शुक्राणु की Motility को लेकर पायी जा रही है। आज कुलवर्धक मेल्स की प्रोब्लेमस के लिए सबसे कारगर और सबसे प्रभावशाली दवाई साबित हो रही है। अब तक दुनिया भर मे हजारों बाँझपन के रोगी इस दवा का लाभ उठा चुके है

    • Male Infertility
    • Nil sperm count treatment
    • निल शुक्राणु की दवा
    • शुक्राणु बढ़ाने की दवा आयुर्वेदिक
    • virya badhane ki dawa
    • shukranu badhane ki dava
    • virya badhane ki ayurvedic dawa
    • sperm badhane ki dawa
    • निल शुक्राणु का आयुर्वेदिक इलाज
    • पुरुष बांझपन की दवा
    • Azoospermia treatment in ayurveda 

    Kulvardhak For Male पुरुषो मे बांझपन की इन मुख्य समस्याओ मे है लाभदायक

    N

    शुक्राणुओ का ना बनना(Nil Sperm)

    N

    शुक्राणुओ का कम बनना

    N

    हार्मोनल प्रॉब्लम का होना

    N

    शुक्राणुओ का कम motile होना

    N

    वीर्य का पतला होना

    N

    टेस्टिस में इन्फेक्शन

    आयुर्वेद के अनुसार गर्भधारण की प्रक्रिया स्त्री और पुरुष दोनों मे ही शुकर्धतु से सम्बन्धित है| शुक्र धातु से ही स्त्री में ओवुम और पुरुष में सीमेन बनता है| हमारे शरीर मे शुक्र धातु का निर्माण अन्य 6 प्रकार की धातुऐ से होता है और वोह धातुऐ है:- 

    ये 6 धातुऐ शुक्र धातु का निर्माण एवं पोषण करती है| और इनहि 6 धातुऐ मे से जब भी किसी कारणवर्ष किसी एक धातु मे भी समस्या आने लगती है तो उसकी वजह से हमारे शुक्र धातु मे भी समस्या उत्पन होने  लगती है जिस की वजह से infertility यानि के बांझपन जैसी समस्या का हमे सामना करना पड़ता है। Kulvardhak दवा के नियमित सेवन से हमारे शरीर की उनसंतुलित शुक्र धातु भी संतुलित होने लगती है जिसकी वजह से हमे बांझपन जैसी समस्या मे जबर्दस्त लाभ मिलता है।

    कुलवर्धक की निर्माण विधि ही इसे बनाती है बांझपन की सबसे प्रभावशाली दवा।

    Kulvardhak for Male ओषधी का निर्माण  आयुर्वेद की एक बड़ी ही प्राचीन विधि के अनुसार किया गया है और इसकी निर्माण विधि ही इसमे सबसे प्रमुख है। 

    इसकी निर्माण विधि मे आयुर्वेद की हर बात का ध्यान बड़ी ही बारीकी से रखा जाता है।

    जैसे के कौन सी जड़ी बूटी को कब और किस ऋतु मे निकालना है, किस जड़ीबूटी का कौनसा और कितना भाग लेना है, किस जड़ीबूटी को पीस कर दवा मे मिलाना है और किस जड़ी की सिर्फ भावना ही देनी है। 

    यही कारण है के आज Kulvardhak Males की प्रोब्लेम के लिए सबसे कारगर और सबसे प्रभावशाली दवाई साबित हो रही है। और जीन Infertile Couples ने अपनी समस्याओ का ईलाज, क्यी सालो तक करवाने के बाद इस बात की उम्मीद ही छोड़ दी थी के अब कभी उनका माता पिता बनने का सपना पूरा भी होगा। उन couples ने भी Kulvardhak For Male ओर Kulvardhak For Female medicine को अपना कर अपने माता पिता बनने के अधूरे सपने को पूरा किया है। 

    आइये जानते है कुछ ऐसे ही लोगो के अनुभव Kulvardhak के बारे मे।

    फ्री कंसल्टेशन बुक करने के लिए नीचे दिये फॉर्म को भरें